ईंट भट्ठों में प्रदूषण नियंत्रण के लिए ग्रेविटेशनल सेटलिंग चैंबर

ईंट भट्ठों में प्रदूषण नियंत्रण के लिए ग्रेविटेशनल सेटलिंग चैंबर

ईंट भट्ठों (अन्य छोटी चिमनियों में भी) में प्रदूषण नियंत्रण के लिए इसका विकास किया गया है। निकलने वाले धुएं में अधिकतम अनुमति प्राप्त एसपीएम सांद्रण के सरकार के मानक, 750 एमजी/एनएम3 और ग्रैविटेशनल सेटिंग चैंबर (जीएससी) के प्रावधानों के अनुकूल यह चैंबर बनाया गया है। यह साधारण व मजबूत डिजाइन का जीएससी है। गुरुत्वाकर्षण पर आधारित इस तकनीक का इस्तेमाल हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड व राजस्थान के 5000 से ज्यादा ईंट भट्ठों में किया जा रहा है।