परिकल्पना एवं लक्ष्य

परिकल्पना

भारत में एक अग्रणी प्रौद्योगिकी हस्तांतरण संगठन बनना।

लक्ष्य

मूल्यवर्धन और साझेदारी के द्वारा अनुसंधान और विकास संस्थाओं की नवाचारी, विश्वसनीय और प्रतिस्पर्धी प्रौद्योगिकियों को बढ़ावा देना, विकास करना, पोषण और उनका व्यापारीकरण करना।

अनुसंधान और विकास संस्थाओं तथा उद्योगों को उन प्रौद्योगिकियों के प्रति संवेदनशील बनाना जिन्हें विकसित करने और व्यापारीकृत करनें की आवश्यकता है।